अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका म?

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका म?

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कई मुसीबतों में घिरते जा रहे हैं. एक ओर उन पर पोर्न स्‍टार से संबंध रखने और उसे पैसे देने के आरोप हैं, वहीं दूसरी ओर उन पर पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की तरह ‘तोशखाना’ जैसा घोटाला करने का आरोप लगा है. बताया जा रहा है कि ट्रम्प जब राष्ट्रपति थे तो उन्‍हें विदेशी नेताओं से करोड़ों के गिफ्ट मिले थे, जिनमें से बहुत-से गिफ्ट का उन्‍होंने खुलासा नहीं किया है.

ट्रम्प पर ‘तोशखाना’ जैसा घोटाला करने के आरोप
ट्रम्प के खिलाफ अमेरिकी कांग्रेस की डेमोक्रेट्स कमेटी की एक रिपोर्ट में ट्रम्‍प पर करीब 100 गिफ्ट्स को गटक जाने के आरोप लगाए गए हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रपति के रूप में ट्रम्प ने विदेश नेताओं से मिले 250,000 डॉलर (भारतीय मुद्रा के हिसाब से 2.06 करोड़ रुपये)के गिफ्ट्स का खुलासा नहीं किया. इन गिफ्ट्स में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए गिफ्ट भी शामिल हैं.

2017 से 2021 तक अमेरिकी राष्ट्रपति रहे थे ट्रम्प
अमेरिकी कांग्रेस की डेमोक्रेट्स कमेटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रम्‍प और उनके परिवार को भारत की यात्रा के दौरान कुल 17 गिफ्ट मिले थे. जिनकी कीमत 47,000 अमेरिकी डॉलर थी. इनमें योगी आदित्यनाथ द्वारा 8,500 अमेरिकी डॉलर का फूलदान, 4,600 डॉलर का ताजमहल का मॉडल, पूर्व राष्ट्रपति कोविंद द्वारा 6600 डॉलर का भारतीय गलीचा, प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 1900 डॉलर के कफलिंक शामिल हैं. भारतीय नेताओं से मिले गिफ्ट्स को मिलाकर ट्रम्‍प पर कुल 250,000 डॉलर के गिफ्ट्स को गायब करने के आरोप हैं. वह वर्ष 2017 से 2021 तक अमेरिकी राष्ट्रपति रहे थे.

… तो इमरान की तरह मुश्किल में फंसेंगे ट्रम्‍प
ट्रम्‍प पर लगाए गए आरोप कुछ वैसे ही हैं, जैसे कि भारत के पड़ोसी देश पाकिस्‍तान में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर लगाए गए हैं. फर्क सिर्फ ये है कि विदेशी नेताओं से मिलने वाले गिफ्ट्स को रखने वाले खास कमरे को पाकिस्‍तान में ‘तोशाखाना’ कहा जाता है. इमरान पर ‘तोशाखाना’ से ही गिफ्ट्स को गायब करने या बेचने के आरेाप हैं और इस मामले में उन पर गिरफ्तारी की तलवार लटकी हुई है. पिछले काफी दिनों से पुलिस उन्‍हें गिरफ्तार करने के प्रयास में जुटी है और इमरान हाईकोर्ट से राहत पा-पाकर जेल जाने से बच रहे हैं. अब ऐसी ही मुश्किल ट्रम्‍प की भी आ सकती हैं, उन पर भी अपने यहां गिफ्ट्स को छिपाने या बेच देने का आरोप लगा है.